October 5, 2022

YouthIndia24x7

देश हमारा खबर आपकी

बुधवार को कैसा रहेगा आपका दिन और पंचाग

बुधवार को कैसा रहेगा आपका दिन यह जानेंगे आपकी राशि के राशिफल से और क्या है आज का शुभ मुहुर्त व पहर यह जानेंगे आज के पंचाग से।
Share

यूथ न्यूज ब्यूरो, कानपुर:

बुधवार को कैसा रहेगा आपका दिन यह जानेंगे आपकी राशि के राशिफल से और क्या है आज का शुभ मुहुर्त व पहर यह जानेंगे आज के पंचाग से।

⛅ दिनांक 12 मई 2021
⛅ दिन – बुधवार
⛅ विक्रम संवत – 2078 (गुजरात – 2077)
⛅ शक संवत – 1943
⛅ अयन – उत्तरायण
⛅ ऋतु – ग्रीष्म
⛅ मास – वैशाख
⛅ पक्ष – शुक्ल
⛅ तिथि – प्रतिपदा 13 मई रात्रि 03:05 तक तत्पश्चात द्वितीया
⛅ नक्षत्र – कृत्तिका 13 मई रात्रि 02:40 तक तत्पश्चात रोहिणी
⛅ योग – शोभन रात्रि 11:48 तक तत्पश्चात अतिगण्ड
⛅ राहुकाल – दोपहर 12:35 से दोपहर 02:13 तक
⛅ सूर्योदय – 06:03
⛅ सूर्यास्त – 19:07
⛅ दिशाशूल – उत्तर दिशा में
⛅ *व्रत पर्व विवरण –
💥 विशेष – प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

🌷 अक्षय फलदायी “अक्षय तृतीया” 🌷
➡ 14 मई 2021 शुक्रवार को अक्षय तृतीया है ।
🙏🏻 वैशाख शुक्ल तृतीया की महिमा मत्स्य, स्कंद, भविष्य, नारद पुराणों व महाभारत आदि ग्रंथो में है । इस दिन किये गये पुण्यकर्म अक्षय (जिसका क्षय न हो) व अनंत फलदायी होते हैं, अत: इसे ‘अक्षय तृतीया’ कहते है । यह सर्व सौभाग्यप्रद है ।
🙏🏻 यह युगादि तिथि यानी सतयुग व त्रेतायुग की प्रारम्भ तिथि है । श्रीविष्णु का नर-नारायण, हयग्रीव और परशुरामजी के रूप में अवतरण व महाभारत युद्ध का अंत इसी तिथि को हुआ था ।
👉🏻 इस दिन बिना कोई शुभ मुहूर्त देखे कोई भी शुभ कार्य प्रारम्भ या सम्पन्न किया जा सकता है । जैसे – विवाह, गृह – प्रवेश या वस्त्र -आभूषण, घर, वाहन, भूखंड आदि की खरीददारी, कृषिकार्य का प्रारम्भ आदि सुख-समृद्धि प्रदायक है ।
🌷 प्रात:स्नान, पूजन, हवन का महत्त्व 🌷
🙏🏻 इस दिन गंगा-स्नान करने से सारे तीर्थ करने का फल मिलता है । गंगाजी का सुमिरन एवं जल में आवाहन करके ब्राम्हमुहूर्त में पुण्यस्नान तो सभी कर सकते है । स्नान के पश्चात् प्रार्थना करें :
🌷 माधवे मेषगे भानौं मुरारे मधुसुदन ।
प्रात: स्नानेन में नाथ फलद: पापहा भव ॥
🙏🏻 ‘हे मुरारे ! हे मधुसुदन ! वैशाख मास में मेष के सूर्य में हे नाथ ! इस प्रात: स्नान से मुझे फल देनेवाले हो जाओ और पापों का नाश करों ।’
👉🏻 सप्तधान्य उबटन व गोझरण मिश्रित जल से स्नान पुण्यदायी है । पुष्प, धूप-दीप, चंदनम अक्षत (साबुत चावल) आदि से लक्ष्मी-नारायण का पूजन व अक्षत से हवन अक्षय फलदायी है ।
🌷 जप, उपवास व दान का महत्त्व 🌷
🙏🏻 इस दिन किया गया उपवास, जप, ध्यान, स्वाध्याय भी अक्षय फलदायी होता है । एक बार हल्का भोजन करके भी उपवास कर सकते है । ‘भविष्य पुराण’ में आता है कि इस दिन दिया गया दान अक्षय हो जाता है । इस दिन पानी के घड़े, पंखे, (खांड के लड्डू), पादत्राण (जूते-चप्पल), छाता, जौ, गेहूँ, चावल, गौ, वस्त्र आदि का दान पुण्यदायी है । परंतु दान सुपात्र को ही देना चाहिए ।
🌷 पितृ-तर्पण का महत्त्व व विधि 🌷
🙏🏻 इस दिन पितृ-तर्पण करना अक्षय फलदायी है । पितरों के तृप्त होने पर घर में सुख-शांति-समृद्धि व दिव्य संताने आती है ।
💥 विधि : इस दिन तिल एवं अक्षत लेकर र्विष्णु एवं ब्रम्हाजी को तत्त्वरूप से पधारने की प्रार्थना करें । फिर पूर्वजों का मानसिक आवाहन कर उनके चरणों में तिल, अक्षत व जल अर्पित करने की भावना करते हुए धीरे से सामग्री किसी पात्र में छोड़ दें तथा भगवान दत्तात्रेय, ब्रम्हाजी व विष्णुजी से पूर्वजों की सदगति हेतु प्रार्थना करें ।
🌷 आशीर्वाद पाने का दिन 🌷
🙏🏻 इस दिन माता-पिता, गुरुजनों की सेवा कर उनकी विशेष प्रसन्नता, संतुष्टि व आशीर्वाद प्राप्त करें । इसका फल भी अक्षय होता है ।
🌷 अक्षय तृतीया का तात्त्विक संदेश 🌷
🙏🏻 ‘अक्षय’ यानी जिसका कभी नाश न हो । शरीर एवं संसार की समस्त वस्तुएँ नाशवान है, अविनाशी तो केवल परमात्मा ही है । यह दिन हमें आत्म विवेचन की प्रेरणा देता है । अक्षय आत्मतत्त्व पर दृष्टी रखने का दृष्टिकोण देता है । महापुरुषों व धर्म के प्रति हमारी श्रद्धा और परमात्म प्राप्ति का हमारा संकल्प अटूट व अक्षय हो – यही अक्षय तृतीया का संदेश मान सकते हो ।

🌷 अक्षय तृतीया 🌷
🙏🏻 ‘अक्षय’ शब्द का मतलब है- जिसका क्षय या नाश न हो। इस दिन किया हुआ जप, तप, ज्ञान तथा दान अक्षय फल देने वाला होता है अतः इसे ‘अक्षय तृतीया’ कहते हैं। भविष्यपुराण, मत्स्यपुराण, पद्मपुराण, विष्णुधर्मोत्तर पुराण, स्कन्दपुराण में इस तिथि का विशेष उल्लेख है। इस दिन जो भी शुभ कार्य किए जाते हैं, उनका बड़ा ही श्रेष्ठ फल मिलता है। इस दिन सभी देवताओं व पित्तरों का पूजन किया जाता है। पित्तरों का श्राद्ध कर धर्मघट दान किए जाने का उल्लेख शास्त्रों में है। वैशाख मास भगवान विष्णु को अतिप्रिय है अतः विशेषतः विष्णु जी की पूजा करें।
🙏🏻 स्कन्दपुराण के अनुसार, जो मनुष्य अक्षय तृतीया को सूर्योदय काल में प्रातः स्नान करते हैं और भगवान विष्णु की पूजा करके कथा सुनते हैं, वे मोक्ष के भागी होते हैं। जो उस दिन मधुसूदन की प्रसन्नता के लिए दान करते हैं, उनका वह पुण्यकर्म भगवान की आज्ञा से अक्षय फल देता है।
🙏🏻 भविष्यपुराण के मध्यमपर्व में कहा गया है वैशाख शुक्ल पक्ष की तृतीया में गंगाजी में स्नान करनेवाला सब पापों से मुक्त हो जाता है | वैशाख मास की तृतीया स्वाती नक्षत्र और माघ की तृतीया रोहिणीयुक्त हो तथा आश्विन तृतीया वृषराशि से युक्त हो तो उसमें जो भी दान दिया जाता है, वह अक्षय होता है | विशेषरूप से इनमें हविष्यान्न एवं मोदक देनेसे अधिक लाभ होता है तथा गुड़ और कर्पूर से युक्त जलदान करनेवाले की विद्वान् पुरुष अधिक प्रंशसा करते हैं, वह मनुष्य ब्रह्मलोक में पूजित होता है | यदि बुधवार और श्रवण से युक्त तृतीया हो तो उसमें स्नान और उपवास करनेसे अनंत फल प्राप्त होता हैं |
🌷 अस्यां तिथौ क्षयमुर्पति हुतं न दत्तं ।
तेनाक्षयेति कथिता मुनिभिस्तृतीया ।
उद्दिश्य दैवतपितृन्क्रियते मनुष्यै: ।
तत् च अक्षयं भवति भारत सर्वमेव ।। – मदनरत्न
🙏🏻 अर्थ : भगवान श्रीकृष्ण युधिष्ठरसे कहते हैं, हे राजन इस तिथि पर किए गए दान व हवन का क्षय नहीं होता है; इसलिए हमारे ऋषि-मुनियोंने इसे ‘अक्षय तृतीया’ कहा है । इस तिथि पर भगवानकी कृपादृष्टि पाने एवं पितरोंकी गतिके लिए की गई विधियां अक्षय-अविनाशी होती हैं ।

🌷 भविष्यपुराण, ब्राह्मपर्व, अध्याय 21 🌷
🙏🏻 वैशाखे मासि राजेन्द्र तृतीया चन्दनस्य च ।वारिणा तुष्यते वेधा मोदकैर्भीम एव हि । ।दानात्तु चन्दनस्येह कञ्जजो नात्र संशयः । । यात्वेषा कुरुशार्दूल वैशाखे मासि वै तिथिः ।तृतीया साऽक्षया लोके गीर्वाणैरभिनन्दिता । । आगतेयं महाबाहो भूरि चन्द्रं वसुव्रता ।कलधौतं तथान्नं च घृतं चापि विशेषतः । ।यद्यद्दत्तं त्वक्षयं स्यात्तेनेयमक्षया स्मृता । । यत्किञ्चिद्दीयते दानं स्वल्पं वा यदि वा बहु ।तत्सर्वमक्षयं स्याद्वै तेनेयमक्षया स्मृता । ।योऽस्यां ददाति करकन्वारिबीजसमन्वितान् ।स याति पुरुषो वीर लोकं वै हेममालिनः । ।इत्येषा कथिता वीर तृतीया तिथिरुत्तमा ।यामुपोष्य नरो राजन्नृद्धिं वृद्धिं श्रियं भजेत् । ।
🙏🏻 अर्थ : वैशाख मास की तृतीया को चन्दनमिश्रित जल तथा मोदक के दान से ब्रह्मा तथा सभी देवता प्रसन्न होते हैं | देवताओं ने वैशाख मास की तृतीया को अक्षय तृतीया कहा है | इस दिन अन्न-वस्त्र-भोजन-सुवर्ण और जल आदि का दान करने से अक्षय फल की प्राप्ति होती है | इसी तृतीया के दिन जो कुछ भी दान किया जाता है वह अक्षय हो जाता है और दान देनेवाला सूर्यलोक को प्राप्त करता है | इस तिथि को जो उपवास करता है वह ऋद्धि-वृद्धि और श्री से सम्पन्न हो जाता है |

पंचक

: 1 जून रात्रि 3.57 बजे से 5 जून रात्रि 11.27 बजे तक
: 28 जून प्रात: 12.57 बजे से 3 जुलाई प्रात: 6.15 बजे तक
एकादशी
23 मई, रविवार मोहिनी एकादशी
06 जून, रविवार अपरा एकादशी
21 जून, सोमवार निर्जला एकादशी
प्रदोष

24 मई: सोम प्रदोष व्रत

07 जून: सोम प्रदोष व्रत

22 जून: भौम प्रदोष
अमावस्या
वैशाख अमावस्या- मंगलवार, 11 मई 2021

ज्येष्ठ अमावस्या- बृहस्पतिवार, 10 जून 2021
पूर्णिमा

26 मई, बुधवार: बुद्ध पूर्णिमा

मेष
आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आज आप घर के किसी सदस्य या संतान की किसी बात से दुखी हो सकते हैं और हो सकता है कि आपकी प्रेमिका व जीवन साथी भी आपको आज कोई ऐसी बात बोल दे, जिससे आपका मन दुखी हो, लेकिन व्यवसाय की उन्नति देखकर आपका मन खुशी होगा। नौकरी से जुड़े जातकों को आज अपने कार्यालय में कुछ कठिन व्यवहार अपनाना होगा, नहीं तो आपके जूनियर्स आपको परेशान करने की कोशिश करेंगे। विद्यार्थियों के उच्च शिक्षा के मार्ग प्रशस्त होंगे। संतान की तरक्की देख के आज मन में प्रसन्नता रहेगी।
वृष 
आजकल आपके लिए कुछ निर्णय महत्वपूर्ण रह सकता है। आप आज अपने घर परिवार में किसी सदस्य के भविष्य से संबंधित कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। यदि आज ऐसा हो, तो उसमें अपने परिवार के बुजुर्गों से सलाह अवश्य लें। दाम्पत्य जीवन सुखमय रहेगा। जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा। यदि लंबे समय से आपसे कुछ कार्य रुके हुए थे, तो पूरे हो सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में भी आज आपकी ख्याति चारों ओर फैलेगी, जिससे  लोग आपसे मित्रता रखने की कोशिश करेंगे और आपके मित्रों की संख्या में इजाफा होगा। आज आप अपने पड़ोसी की मदद के लिए आगे आएंगे।
मिथुन
आज का दिन आपके लिए उत्तम फलदायक रहेगा। नौकरी में कार्यरत लोगों को आज प्रमोशन हो सकता है, उसके लिए आपको अपने अधिकारियों को प्रसन्न रखना होगा। समाज में लोगों के बीच आज आपको मान सम्मान प्राप्त हो सकता है। आज आपको किसी जरूरी कार्य पर धन खर्च करना पड़ सकता है। आज आप खरीदारी करने आप परिवार के साथ बाहर जा सकते हैं। विदेशों से व्यापार कर रहे लोग को आज कोई शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। सायंकाल का समय आज आप अपने माता पिता की सेवा में व्यतीत करेंगे।
कर्क
आज का दिन आपके लिए मिला जुला रहेगा। आज आप थोड़ा परेशान रहेंगे, इससे आपका किसी काम में मन नही लगेगा। आपको किसी बात से निराश होने की आवश्यकता नहीं है। प्रेम जीवन में आज नयी ऊर्जा का संचार होगा। परिवार में किसी सदस्य के स्वास्थ्य में आज कमी आ सकते हैं। यदि ऐसा होता है, तो तुरंत डाक्टर से परामर्श अवश्य लें, इसमें कुछ धन भी व्यय होगा। आज दोपहर के बाद आप एक नई ऊर्जा महसूस करेंगे, जिससे आप अपने सभी रूके हुए कार्यों को पूरा करेंगे। यदि ऐसा नहीं किया, तो भविष्य में आप परेशान हो सकते हैं। विवाह योग्य जातकों के लिए आज उत्तम विवाह के प्रस्ताव आएंगे।
सिंह
आज का दिन आपके लिए सम्मान प्राप्ति का रहेगा। ससुराल पक्ष से भी आज आपको मान सम्मान मिलता दिख रहा है। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। यदि आपका कोई सरकारी कार्य रहे लंबे समय से लटका हुआ था, तो वह आज पूरा हो सकता है और संतान के भविष्य से संबंधित फैसला आज आप ले सकते हैं। यदि आज किसी संपत्ति में निवेश करने का मन बना रहे हैं, तो उसके लिए भी दिन उत्तम रहेगा। विद्यार्थियों को आज गुरुजनों का आशीर्वाद प्राप्त होगा। ससुराल पक्ष के किसी व्यक्ति को आज उधार देना पड़े, तो सोच समझ करें क्योंकि उसके वापस आने की संभावना बहुत कम है।
कन्या
आज का दिन आपके लिए अनुकूल रहेगा और आपका मूड भी अच्छा रहेगा। यदि आज आप कोई लोन लेना चाहते हैं, तो वह आपको आसानी से मिल जाएगा। आज आप अपने व्यापार के लिए कुछ पास व दूर की यात्राएं भी कर सकते हैं। यदि संतान के विवाह मे कोई बाधा आ रही थी, तो वह आज समाप्त होगी। उत्तम अवसर प्राप्त होंगे। यदि आज आप कोई नई संपत्ति मकान दुकान आदित्य खरीदने का मन बना रहे हैं, तो उसके लिए दिन उत्तम रहेगा। नौकरी में आज आपके शत्रु आपकी तरक्की देखकर कुछ जलन महसूस करेंगे, लेकिन वह आपका कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे।
तुला
आज का दिन आपके कार्यों के लिए अनुकूल मालूम होता दिख रहा है। विद्यार्थियों को परीक्षा में आज उत्तम सफलता प्राप्त हो सकती है। ससुराल पक्ष से भी आज धन लाभ होता दिख रहा है। आज आपकी माताजी से आपकी कुछ बहसबाजी हो सकती है। व्यवसाय या कारोबार से संबंधित कोई लिखा पड़ी करनी पड़े, तो उसके जरूरी दस्तावेज अवश्य चेक करें। बिजनेस कर रहे लोगों को आज अपने पिताजी की सलाह की आवश्यकता होगी। भाई बहनों का भरपूर सहयोग मिलेगा। जीवन साथी के लिए आज कोई उपहार खरीद सकते हैं। सायंकाल का समय आज आप किसी मंगलिक कार्यक्रम मे सम्मिलित हो सकते हैं।
वृश्चिक
आज का दिन आपके लिए संभल कर चलने का होगा क्योंकि आज सुबह से ही आपके कार्यों को बिगाड़ने का हर संभव प्रयास करेंगे। आज कोई कार्य आपकी सोच के विपरीत हो सकता है। कोई व्यक्ति जिस पर आप भरोसा करते हैं, वह आपको धोखा दे सकता है। विदेश में व्यापार कर रहे, जातकों को आज कोई शुभ सूचना प्राप्त हो सकती है। संतान को अच्छे कार्य करते देख आज मन में प्रसन्नता रहेगी। दान-पुण्य के कार्यों पर भी आज आप कुछ धन व्यय करेंगे। अपनी आय और व्यय दोनों में संतुलन बना कर रखना होगा।
धनु
आज का दिन आपके लिए कुछ मुश्किलें भरा हो सकता है। आज आपके कुछ कार्य बिगड़ने से आपकी निराशा बढ़ सकती है। व्यर्थ के डर की आशंका से आपका मन अशांत रहेगा। यदि किसी कार्य में निवेश करना पडे, तो सोच विचार कर करें। नौकरी करने वाले जातकों को आज कुछ तनाव महसूस होगा, जिससे वह अपने क्रोध पर काबू रखने में नाकामयाब रहेंगे। यदि ऐसा हुआ, तो आपके अधिकारी आज आपसे नाराज हो सकते हैं। व्यापार में आज दिन भर लाभ के अवसर मिलते रहेंगे, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। आज आप परिवार के सदस्यों की आवश्यकता की पूर्ति करने में सफल रहेंगे।
मकर
आज का दिन आपके लिए कुछ मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। आज का दिन में कुछ जानकारी हासिल करने वाला रहेगा, जो आपकी बौद्धिक क्षमता को बढ़ाने वाला होगा। किसी बड़े लाभ की आशा में आज दिन सार्थक नजर आएगा। राजनीतिक कार्यों में भी आज बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे। सायंकाल के समय आज आप अपने परिवार के सदस्यों के साथ देव दर्शन की यात्रा के लिए जा सकते हैं। भाई बहन के विवाह में आ रही बांधा आज दूर होगी। सायंकाल का समय आज आप अपने जीवनसाथी को कहीं बाहर घुमाने लेकर जा सकते हैं।
कुंभ
आज का दिन आप की उन्नति के नए-नए मार्ग खोलेगा और आपके व्यापार में यदि कोई डील लटकी थी, तो आज पूरी हो सकती है। आज आपकी माता जी के स्वास्थ्य में कुछ गिरावट आ सकती है। परिवार में आज कोई विवाद पनप सकता है, जिससे मानसिक कष्ट का अनुभव होगा। आज आपके कार्यक्षेत्र में लोगों का आना जाना रहा है। इस बीच कुछ अपने ही आपकी चिंता को बढ़ा सकते हैं। आज आप कुछ आपको सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे, इसमें कुछ धन भी व्यय करेंगे। सायंकाल का समय आप आप अपने परिवार के छोटे बच्चों के साथ मौज मस्ती में व्यतीत करेंगे।
मीन
आज का दिन आपके लिए निश्चित रूप से फलदायक रहेगा। आप आज संतान को किसी प्रतियोगिता में भाग दिलाने के लिए भाग-दौड़ करेंगे, जिसे सायंकाल के समय आपको थोडी थकान महसूस हो सकती है। आज दोपहर तक बहुत से काम एक साथ आपके सामने आएंगे, लेकिन आपको कुछ जरूरी कामों को पूरा करना होगा, नहीं तो वह भी अधूरे रह जाएंगे। आज आप अपने व्यापार के लिए किसी वरिष्ठ सदस्यों से सलाह ले सकते हैं, जो आपके व्यापार के लिए उत्तम रहेगी। सायंकाल का समय आप अपने मित्रों के साथ मौज मस्ती में व्यतीत करेंगे

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं

दिनांक 12 को जन्मे व्यक्तियों का अंक ज्योतिष के अनुसार मूलांक तीन आता है। यह बृहस्पति का प्रतिनिधि अंक है। आप दार्शनिक स्वभाव के होने के बावजूद एक विशेष प्रकार की स्फूर्ति रखते हैं। आपकी शिक्षा के क्षेत्र में पकड़ मजबूत होगी। आप एक सामाजिक प्राणी हैं। आप सदैव परिपूर्णता या कहें कि परफेक्शन की तलाश में रहते हैं यही वजह है कि अकसर अव्यवस्थाओं के कारण तनाव में रहते हैं। ऐसे व्यक्ति निष्कपट, दयालु एवं उच्च तार्किक क्षमता वाले होते हैं। अनुशासनप्रिय होने के कारण कभी-कभी आप तानाशाह भी बन जाते हैं।

शुभ दिनांक : 3, 12, 21, 30

शुभ अंक : 1, 3, 6, 7, 9

शुभ वर्ष : 2028, 2030, 2031, 2034, 2043, 2049, 2052

ईष्टदेव : देवी सरस्वती, देवगुरु बृहस्पति, भगवान विष्णु

शुभ रंग : पीला, सुनहरा और गुलाबी

कैसा रहेगा यह वर्ष
घर या परिवार में शुभ कार्य होंगे। यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद है। नवीन व्यापार की योजना भी बन सकती है। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहेगी। किसी विशेष परीक्षा में सफलता मिल सकती है। नौकरीपेशा के लिए प्रतिभा के बल पर उत्तम सफलता का है। मित्र वर्ग का सहयोग सुखद रहेगा। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे। महत्वपूर्ण कार्य से यात्रा के योग भी है।