November 27, 2022

YouthIndia24x7

देश हमारा खबर आपकी

खाली बेड की संख्या तत्काल अपडेट करें, हैलट अस्पताल का निरीक्षण

निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देशित करते हुआ कहा कि सेनिटाइजेशन करने हेतु गेट पर कोविड हेल्पडेस्क बनाई जाए।
Share

यूथ न्यूज ब्यूरो, कानपुर:

कोरोना संक्रमित मरीजों को राहत मिल सके इसके लिए मुख्य विकास अधिकारी डॉक्टर महेंद्र कुमार द्वारा हैलट अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने निर्देशित करते हुआ कहा कि सेनिटाइजेशन करने हेतु गेट पर कोविड हेल्पडेस्क बनाई जाए।

प्रमुख अधीक्षक कक्ष में विभिन्न कोविड वार्डों के निरीक्षण हेतु लगे टेलीविजन अथवा स्क्रीन को और बड़ा कराने के निर्देश दिए। उपस्थित प्रधानाचार्य जीएसवीएम को कोविड वार्डों के एक्सटेंशन का प्लान बनाने के निर्देश भी दिए । वहां पर स्थापित कंट्रोल रूम में लगे बोर्ड पर खाली तथा भरे बेड़ों की सूचना समय-समय पर अपडेट करते रहने के निर्देश दिए।

ड्यूटी डॉक्टर के रोस्टर को भी चस्पा करने और नियंत्रण कक्ष के बाहर फ्लेक्सी बैनर लगवाने के निर्देश दिए गए। हैलेट के इमरजेंसी के बाहर बने सैंपलिंग सेंटर पर यहां टेस्टिंग होती है का फ्लेक्सी लगाने के निर्देश दिए गए। उपस्थित जीएसवीएम प्रिंसिपल द्वारा बताया गया कि यहां पर रोगी के धनात्मक अथवा धनात्मक न होने की सूचना प्राप्त होने पर उसे संबंधित फैसिलिटी का एलोकेशन अस्पताल के कंट्रोल रूम से कर दिया जाता है।

इसके बाद मुख्य विकास अधिकारी महोदय द्वारा मेटरनिटी विंग के कोविड वार्ड का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के समय वार्ड के बाहर उपस्थित तीमारदार के परिजनों से वार्ता की गई। परिजन ने अवगत कराया की उनके रोगी के संबंध में समय से संपूर्ण जानकारी प्राप्त हो रही है तथा बाहर से दवाइयां नहीं लानी पड़ रही है।

मुख्य विकास अधिकारी द्वारा मेटरनिटी विंग के बाहर सामने की ओर पेयजल की आवश्यक व्यवस्था कराने के निर्देश दिए गए। इसके बाद मुख्य विकास अधिकारी महोदय द्वारा हैलट अस्पताल के न्यूरो साइंस बिल्डिंग में बने कोविड वार्ड का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के द्वारा सरीन जो रजिस्टर पर सूचनाएं संकलित कर रहे थे ।

रजिस्टर पर सूचनाएं अपूर्ण होने पर उन्हें चेतावनी देते हुए संपूर्ण सूचनाएं पूर्ण करने के निर्देश दिए गए और समय-समय पर सभी रोगियों के तीमारदारों को उनकी कुशलता के विषय में अवगत कराने के भी निर्देश दिए गए। यहां पर उपस्थित इंटर्न डॉक्टर्स के द्वारा बताया गया कि उनको कॉविड vaccination ki pratham डोज लग गई है।